सरिता

उम्र :

25  

राशि :

वृषभ राशि  

में जानती हूँ :

हिंदी  English  
मेरा निजी ब्लॉग (29.05.2020) , मेरे आज के ख्याल :
Mujhe mere dost desi kahete hai, lekin mein gussa nahi balki khush hoti hoon kyunki mujhe desi bane rahena bahut achha lagta hai. Mujhe internet aur phone par dost banake unse lambi batein karna bahut pasand hai, isse mera akellapan dur ho jaata hai.

में ऑनलाइन होउंगी: ab online hoon.. abhi call kijiye..

मेरे बारे में :

मैं देसी दिखने वाली असली इंडियन लड़की हूँ और हमेशा ऐसी ही रहना चाहती हूँ | मैं घर पर अकेली रहती हूँ और यही एक वजह है की मुझे इंटरनेट पर दोस्त बनाना पसंद है | इससे मेरा अकेलापन दूर हो जाता है और मैं खुश भी रहती हूँ | मैं एक अच्छी बातुनी लड़की हो और जो कोई भी मुझे सुनता है वो बाकी सब भूल जाता है | मुझे अजनबी लोगों सो बात करना और नए दोस्त बनाना बहुत पसंद है |

बस एक छोटी कहानी

  मैं बचपन से अकेले ही रहना पसंद करती और इसी वजह से मेरे कोई दोस्त भी नहीं थे | मैंने प्यार भरी इस दुनिया को समझा ही कहाँ था | अपने माँ-बाप से दूर होने बाद तो जैसे मेरे उप्पर पहाड़ ही टूट पद था | मेरे कॉलेज के दिनों में ही मेरी सबसे पहली एक सहली बनी जिसके साथ मैंने जिंदगी के रंगों को पहचाना और उसके बाद तो अकेलापन क्या होता है, मैं जैसे भूल ही गयी थी | मैं अब लड़कों और लड़कियों से खुलकर बात करना पसंद करती हूँ और अब तो मेरे बिना जैसे दोस्तों का समूह का मज़ा ही बिगड जाता है | मुझे नए ज़माने के फैशन भरे कपडे पहनना और उनमें नए फोटों खींचवाना पसंद है और आखिर कौन नहीं चाहता की वो सुन्दर दिखे? मैं जब भी रास्ते पर चलूँ तो आज तक ऐसा कोई मर्द नहीं मिला जो मुझे देख फिर पलटकर ना देखे | मैं अक्सर ही चैट रूम में नए लोगों से मिलती हूँ और काफी रोमांचक बातों के साथ चैटातें करती हूँ | चैट करते वक्त मेरे चेहरे पर हमेशा ही मुस्कान रहती है और और यह देखने के लिए की मुझसे बात कर आपके चेहरे पर मुस्कान आती है या नहीं !! उसके लिए आईये और एक बार मुझसे बात करकर देखिये !!

जिससे मैं खुश होती हूँ :

जो लोग मुझे एक देसी लड़की के तौर पर जान जाते हैं और यही बात मेरे मुड को काफी प्रभावित करती है | मैं मानती हूँ की बारिश का मौसम खुशहाली का मौसम होता हैं |

जिससे मैं नाखुश होती हूँ :

जब लोग अनचाही बात कहने लगते हैं |

खाली समय में :

चोपिन की शास्त्रीय टिप्णियों में डूब जाना |

मेरे पसंद की बात :

ग्राहक प्रमाण पत्र:

सुरेश
मैं विदेशी लड़कियों के दिखावे से परेशान हो चूका हूँ | यह लड़की तो सच में देसी है जो लगती भी देसी ही है |

प्रथ्योश
सरिता इंडियन जिंदगी की एक जीती – जागती मिसाल है | इसे नए जमाने को लड़कों के साथ पेश खूब अच्छी तरह से आता है |

विशाल
जब मैंने पहली बार सरिता से बात की तो मैं लड़कियों के बारे में कुछ और ही ख्याल रखता था | इसने मेरे सभी जिंदगी के ख्याल और उससे जुडी सभी चीज़ों के ख्याल को बदल दिया है |


सब लड़कियों का होम पेज